Breaking News
Home / World / ck news / बिलकिस बानो मामले में 6 पुलिसवालों ने मिटाये थे सबूत 2002 गुजरात दंगा

बिलकिस बानो मामले में 6 पुलिसवालों ने मिटाये थे सबूत 2002 गुजरात दंगा

बिलकिस बानो केस में हाईकोर्ट ने गुरुवार को फैसला सुनाते हुए 6 पुलिसवालों को सबूत मिटाने का दोषी पाया है. इस मामले में 11 दोषियों की उम्रकैद की सजा को बरकरार रखा गया है. वहीं, उन्हें फांसी दिए जाने की मांग को खारिज कर दिया है. बताते चलें कि तीन मार्च 2002 को गुजरात के दाहोद जिल के देवगड़ बरिया गांव में गोधरा ट्रेन केस के बाद बिलकिस बानो सहित 17 लोगों पर भीड़ ने हमला कर दिया था. इस हमले में बिलकिस के परिवार के छह लोगों की हत्या कर दी गई थी, वहीं छह लोग लापता हो गए थे. इसके बाद से बिलकिस अपने परिवार के दो सदस्य हुसैन और सद्दाम के साथ न्याय के लिए संघर्ष कर रही हैं. साल 2008 में मुंबई की स्पेशल कोर्ट ने इस मामले में जसवंत नाई, गोविंद नाई, शैलष भट्ट, राधेश्याम शाह, बिपिन चंद्र जोशी, केशरभाई वोहानिया, प्रदीप मोरधिया और बकाभाई वोहानिया को उम्रकैद की सजा सुनाई थी.

About admin

Check Also

बाहुबली के 1000 करोड़, लेकिन ‘कमाई’ अभी जारी है मेरे दोस्त!

फ़िल्म बाहुबली ने बीते सप्ताहांत पर 1000 करोड़ रुपए कमाकर भारत की सर्वाधिक कमाई करने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *